image
image image image image image image

Office bearers
+-

Office bearers

  • Com. Animesh Mitra

    [ President ]
  • Com. P. Abhimanyu

    [ General Secretary ]
  • Com. John Verghese

    [ Deputy General Secretary ]
  • Com. Irfan Pasha

    [ Treasurer ]

Dada Ghosh Bhawan, 2151/1, New Patel Nagar, Opp. Shadipur Bus Depot, New Delhi- 110008

011-25705385(Office), 011-25894862(Fax)

envelopebsnleuchq@gmail.com
image
image image image image image image

Office bearers
+-

Office bearers

  • Com. Animesh Mitra

    [ President ]
  • Com. P. Abhimanyu

    [ General Secretary ]
  • Com. John Verghese

    [ Deputy General Secretary ]
  • Com. Irfan Pasha

    [ Treasurer ]

Dada Ghosh Bhawan, 2151/1, New Patel Nagar, Opp. Shadipur Bus Depot, New Delhi- 110008

011-25705385(Office), 011-25894862(Fax)

envelopebsnleuchq@gmail.com

BSNL Employees Union (CHQ), New Delhi

18 - Jul - 2022
DR JE transferred from Haryana to Odisha circle, should be allowed to appear in the JTO LICE as the candidate of Odisha circle.

A DR JE was transferred from Haryana circle to Odisha circle on 04.07.2022. Since, he is presently in the strength of Odisha circle and does not have his lien with Haryana circle, the officials wants to appear in the JTO LICE as a candidate from Odisha circle. BSNLEU has taken up this issue. In his meeting with the Director (HR) today, Com.P.Abhimanyu, GS, raised this issue and demanded that the DR JE should be permitted to appear in the JTO LICE, as a candidate of Odisha circle.

18 - Jul - 2022
AUAB, Madurai, Tamil Nadu circle, submits memorandum to Shri S.Venkatesan, Hon’ble MP, Madurai on 16.07.2022.

16 - Jul - 2022
It is easy to criticise others, without realising one’s own mistakes.

In the JTO LICE to be held on 07.08.2022, vacancies are not available in 11 circles and only few vacancies are available in 9 circles. Similarly, in the JE LICE to be conducted in October, 2022, vacancies are available in only 15 circles. Even among these 15 circles, there are only few vacancies in 7 circles. Non-availability of vacancies or availability of less number of vacancies in the JTO LICE and in the JE LICE, has affected the promotional avenues of hundreds of young employees. The main reason behind  this problem is the “Restructuring of Manpower” done by the Management, as per which thousands of JTO, JE and other posts were abolished. BSNLEU foresaw this danger of well in advance and took up the issue with the Management. When Management gave its’ proposals on Restructuring, on 27.07.2021 itself BSNLEU wrote a 4 page letter to the Management, countering it’s proposal to abolish thousands of posts. In that letter, BSNLEU had given concrete justifications for the sanctioning of reasonable number of JTO, JAO, JE, Sr.TOA, Telecom Technician (TT) and Asstt. Telecom Technician (ATT) posts. Had the Management accepted BSNLEU’s proposals, thousands of posts, including JTO and JE posts, would not have been abolished. BSNLEU not only wrote this letter countering Management’s proposals, but also continuously organised agitational programmes like demonstrations on 14.09.2021, March to SSA and BA (Business Area) Offices on 05.10.2021, March to CGM Office on 22.10.2021, lunch hour demonstrations on 24.02.2022, black-badge wearing and submitting of memorandums to GMs and CGMs on 10.03.2022, lunch hour demonstrations on 26.04.2022. Thousands of employees were mobilised by BSNLEU in the day long dharna programme organised by the AUAB on 21.06.2022. Only because of the steps taken by BSNLEU, a special JTO LICE is going to be held now. We agree that, this problem could not be settled to the satisfaction of the employees, mainly because of the adamant attitude of the Management. Some comrades are criticising BSNLEU today, for not settling the issue. We accept their criticism. At the same time, those comrades should also make a self- introspection. When BSNLEU raised that issue on 27-07-2021 itself, how many of those comrades read BSNLEU’s letter and understood the real danger? To what extent those comrades participated in the agitations called on by BSNLEU? It is easy to criticise others, without realising one’s own mistakes.

16 - Jul - 2022
Hindi translation of "It is easy to criticise others, without realising one’s own mistakes."

अपनी गलतियों को महसूस किए बिना दूसरों की आलोचना करना आसान है । 

07.08.2022 को आयोजित होने वाले जेटीओ एलआईसीई में 11 सर्किलों में रिक्त पद उपलब्ध नहीं हैं और 9 सर्किलों में केवल कुछ रिक्त पद उपलब्ध हैं। इसी तरह, अक्टूबर, 2022 में आयोजित किए जाने वाले जेई एलआईसीई में केवल 15 सर्किलों में रिक्त पद उपलब्ध हैं। इन 15 सर्किलों में से भी, 7 सर्किलों में केवल कुछ ही रिक्त पद हैं। रिक्त पदों की अनुपलब्धता या जेटीओ एलआईसीई और जेई एलआईसीई में रिक्त पद की कम संख्या की उपलब्धता ने सैकड़ों युवा कर्मचारियों के पदोन्नति के अवसरों को प्रभावित किया है। इस समस्या के पीछे मुख्य कारण प्रबंधन द्वारा की गई "मानव संसाधनों का पुनर्गठन" है, जिसके अनुसार हजारों जेटीओ, जेई और अन्य पदों को समाप्त कर दिया गया था। BSNLEU ने पहले से ही इस खतरे की भविष्यवाणी कर दी थी और प्रबंधन के साथ इस मुद्दे को उठाया था। जब प्रबंधन ने पुनर्गठन पर अपने प्रस्ताव दिए, तो 27.07.2021 को ही BSNLEU ने प्रबंधन को 4 पृष्ठ का पत्र लिखा, जिसमें हजारों पदों को समाप्त करने के प्रस्ताव का विरोध किया गया था। उस पत्र में, BSNLEU ने जेटीओ, जेएओ, जेई, सीनियर टीओए, दूरसंचार तकनीशियन (टीटी) और सहायक दूरसंचार तकनीशियन के पद की उचित संख्या की मंजूरी के लिए ठोस औचित्य दिए थे। यदि प्रबंधन ने BSNLEU के प्रस्तावों को स्वीकार कर लिया होता तो जेटीओ और जेई पदों सहित हजारों पदों को समाप्त नहीं किया जाता। BSNLEU ने न केवल प्रबंधन के प्रस्तावों का विरोध करते हुए यह पत्र लिखा, बल्कि 14.09.2021 को प्रदर्शन, 05.10.2021 को एसएसए और बीए (बिजनेस एरिया) कार्यालयों पर कूच, 22.10.2021 को सीजीएम कार्यालय पर कूच, 24.02.2022 को दोपहर के भोजन अवकाश में प्रदर्शन, 10.03.2022 को दोपहर के भोजन अवकाश में प्रदर्शन, 14.09.2021 को प्रदर्शन, 05.10.2021 को एसएसए और बीए (बिजनेस एरिया) कार्यालयों के पर कूच, 22.10.2021 को सीजीएम कार्यालय पर कूच, 24.02.2022 को दोपहर के भोजन अवकाश में प्रदर्शन, 10.03.2022 को दोपहर के भोजन के समय प्रदर्शन, 10.03.2022 को दोपहर के भोजन के समय के प्रदर्शन, 21.06.2022 को AUAB द्वारा आयोजित दिन भर के धरना कार्यक्रम में BSNLEU द्वारा हजारों कर्मचारियों को जुटाया गया था। केवल BSNLEU द्वारा उठाए गए कदमों के कारण अब एक विशेष जेटीओ एलआईसीई आयोजित किया जा रहा है। हम इस बात से सहमत हैं कि इस समस्या को कर्मचारियों की संतुष्टि तक हल नहीं किया जा सका इसका कारण मुख्य रूप से प्रबंधन का अड़ियल रवैया है । कुछ साथी इस मुद्दे को ना सुलझाने के लिए आज BSNLEU की आलोचना कर रहे हैं। हम उनकी आलोचना को स्वीकार करते हैं। साथ ही उन साथियों को भी आत्मनिरीक्षण करना चाहिए। जब BSNLEU ने 27-07-2021 को ही इस मुद्दे को उठाया, तो उनमें से कितने साथियों ने BSNLEU के पत्र को पढ़ा और वास्तविक खतरे को समझा ? BSNLEU द्वारा आयोजित आंदोलनों में उन साथियों ने किस हद तक भाग लिया ? अपनी गलतियों को महसूस किए बिना दूसरों की आलोचना करना आसान है।

16 - Jul - 2022
Shri Sadananda Gowda, former Hon’ble Railway Minister, writes to the Minister of Communications, on the 3rd Pay Revision / Wage Revision issue of BSNL employees.

As a part of the campaign of submitting memorandum to the Hon’ble MPs / Hon’ble Ministers, the AUAB leaders of Karnataka circle have submitted memorandum to Shri Sadananda Gowda, Ex-Hon’ble Minister for Railways. Acting on this memorandum, Shri Sadananda Gowda, has written letter to Shri Ashwini Vaishnaw, Hon’ble Minister for Communications, requesting him to do the needful on the issue of 3rd Pay Revision / Wage Revision of BSNL employees. The CHQ of BSNLEU heartily thanks Shri Sadananda Gowda. Further, the CHQ heartily congratulates the AUAB leaders of Karnataka circle for doing this commendable job.

View File

15 - Jul - 2022
Top guns of BSNL Management blazing to save BTEU leaders.

Every now and then, Management gives instruction to the employees that, they should not bring political influence to settle their problems, like transfers and postings. However, the Management itself does not follow this instruction. Often, the Management carries out the instructions of their political bosses. In the Visakhapatnam district of Andhra Pradesh circle, transfer orders are issued to some employees, which include a few BTEU leaders. The Visakhapatnam district administration says that, the transfer orders are issued as per Rules. However, the BTEU leaders want the transfer orders to be somehow cancelled. Hence, the top guns of the Corporate Management have started blazing now, to cancel the transfer orders of the BTEU leaders. BSNLEU is repeatedly highlighting the sexual harassments taking place at Ludhiana district. But, the top guns of the Corporate Management lack the guts or intent to interfere on this matter. Many HR issues of the employees are hanging fire. However, the top guns of the Management neither have time nor keenness to settle those issues. But, they have the guts, time and keenness to interfere in the transfer issue of BTEU leaders. We cannot use the word shameless here, to describe the attitude of the Management, because the Parliament has now told that “shameless” is an unparliamentary word.

[The circle secretaries are requested to translate this matter into regional languages and to take it to each and every employee.]

15 - Jul - 2022
Hindi translation of "Top guns of BSNL Management blazing to save BTEU leaders."

BTEU नेताओं को बचाने के लिए धधक रही बीएसएनएल प्रबंधन की शीर्ष बंदुके  !  

हर बार प्रबंधन कर्मचारियों को निर्देश देता है कि उन्हें अपने स्थानांतरण और पोस्टिंग जैसी समस्याओं को हल करने के लिए राजनीतिक प्रभाव नहीं लाना चाहिए। हालांकि, प्रबंधन स्वयं इस निर्देश का पालन नहीं करता है। *अक्सर, प्रबंधन अपने राजनीतिक आकाओं के निर्देशों का पालन करता है।* आंध्र प्रदेश सर्कल के विशाखापत्तनम जिले में कुछ कर्मचारियों के स्थानांतरण आदेश जारी किए गये हैं, जिनमें कुछ BTEU के नेता शामिल हैं। विशाखापट्टनम जिला प्रशासन का कहना है कि स्थानांतरण आदेश नियमों के अनुसार जारी किए गये हैं। हालांकि, BTEU के नेता चाहते हैं कि स्थानांतरण आदेश किसी भी तरह रद्द कर दिए जाएं। इसलिए, कॉर्पोरेट प्रबंधन की शीर्ष अधिकारियों ने BTEU नेताओं के स्थानांतरण आदेशों को रद्द करने के लिए गरजना शुरू कर दिया है । BSNLEU बार-बार लुधियाना जिले में होने वाले यौन उत्पीड़न को उजागर कर रहा है। लेकिन, कॉर्पोरेट प्रबंधन के शीर्ष अधिकारीयों में इस मामले में हस्तक्षेप करने की हिम्मत या इरादे की कमी है। कर्मचारियों के कई मानव संसाधन के मुद्दे लटके हुए हैं। हालांकि, प्रबंधन के शीर्ष अधिकारियों के पास उन मुद्दों को सुलझाने के लिए न तो समय है और न ही उत्सुकता है। लेकिन, उनके पास BTEU नेताओं के स्थानांतरण के मुद्दे में हस्तक्षेप करने की हिम्मत, समय और उत्सुकता है। हम प्रबंधन के रवैये का वर्णन करने के लिए यहां बेशर्म शब्द का उपयोग नहीं कर सकते हैं, क्योंकि संसद ने अब बताया है कि "बेशर्म" एक असंसदीय शब्द है।

15 - Jul - 2022
Identify the real face of BTEU.

It is being brought to our notice from a number of places that, BTEU is involved in a vilifying campaign against BSNLEU. BTEU is accusing that, BSNLEU is unable to settle Wage Revision and other important problems of the employees. It obvious that, BTEU has started it’s campaign, keeping the forthcoming Membership Verification in mind.

 

Firstly, we need to tell a few words about BTEU. It is only a letter pad union, having a few hundred members throughout the country. It is affiliated to BMS (Bhartiya Mazdoor Sangh). Everyone knows that BMS is an organ of the RSS and hence BTEU is very close to the ruling BJP. Utilising it’s closeness to the ruling BJP and to the Ministers, the BTEU could have settled the most burning issue of BSNL employees, viz., 3rd Wage Revision. JTO LICE candidates are frustrated because there are no vacancies in 11 circles and only a few vacancies in 9 circles. By using it’s closeness to the Minister, the BTEU could have settled this problem and could have brought relief to the DR JEs. But this was not done by the BTEU. The only activity of BTEU is, meeting the Ministers every now and then, offering shawls and bouquets to them and uploading those photos on their website. 


Under the banner of the AUAB, BSNLEU has taken maximum efforts to settle the 3rd Wage Revision issue. This is known to the entire employees. Under the banner of the AUAB, notice was given for indefinite strike from 03-12-2018, demanding settlement of 3rd Wage Revision. But, the strike was deferred following assurances given by Shri Manoj Sinha, the then Hon’ble Minister of Communications. But, it is an undeniable fact that, BTEU did not sign the strike notice for this indefinite strike. There after, the AUAB organised a historic 3 day strike on 18th, 19th & 20th February, 2019, demanding settlement of 3rd Wage Revision. But, BTEU did not join this strike also. Thus, BTEU has always acted as a strike-breaker and a betrayer. BTEU should tell the employees now, what it has settled for the employees, during the past 8 years of BJP rule. Nothing. It is exactly for this reason that, BTEU is being ignored and neglected by BSNL employees. BTEU is surviving only on the oxygen being supplied by the government. It is needless for us to say that, it is the same government, which has denied 3rd Wage Revision to the employees. Now you can identify the real face of the BTEU.

15 - Jul - 2022
Hindi translation of "Identify the real face of BTEU."

बीटीईयू  का असली चेहरा पहचाने । 

कई स्थानों से हमारे ध्यान में लाया जा रहा है कि बीटीईयू BSNLEU को बदनाम करने के अभियान में शामिल है। बीटीईयू आरोप लगा रहा है कि BSNLEU वेतन संशोधन और कर्मचारियों की अन्य महत्वपूर्ण समस्याओं का समाधान करने में असमर्थ है। यह स्पष्ट है कि बीटीईयू ने आगामी सदस्यता सत्यापन को ध्यान में रखते हुए अपना अभियान शुरू किया है।

 

सबसे पहले हमें बीटीईयू के बारे में कुछ बातें बताने की आवश्यकता है। बीटीईयू केवल एक लेटर पैड यूनियन है, जिसमें पूरे देश में कुछ सौ सदस्य हैं। यह बीएमएस (भारतीय मजदूर संघ) से संबद्ध है। सभी जानते हैं कि बीएमएस आरएसएस का एक अंग है और इसलिए बीटीईयू सत्तारूढ़ भाजपा के बहुत करीब है। सत्तारूढ़ भाजपा और मंत्रियों के साथ इसकी निकटता का उपयोग करते हुए, बीटीईयू बीएसएनएल कर्मचारियों के सबसे ज्वलंत मुद्दे अर्थात् तीसरे वेतन संशोधन का समाधान कर सकता था। जेटीओ एलआईसीई उम्मीदवार निराश हैं क्योंकि 11 सर्किलों में कोई रिक्त पद नहीं हैं और 9 सर्किलों में केवल कुछ रिक्त पद हैं। मंत्री जी के साथ इसकी निकटता का उपयोग करके बीटीईयू इस समस्या का समाधान कर सकता था और डीआर जेई के लिए राहत ला सकता था। लेकिन बीटीईयू द्वारा ऐसा नहीं किया गया था। बीटीईयू की एकमात्र गतिविधि यह है कि मंत्रियों से हर बार मिलना, उन्हें शॉल और गुलदस्ता भेंट करना और उन तस्वीरों को अपनी वेबसाइट पर अपलोड करना। 

 

एयूएबी के बैनर तले BSNLEU ने तीसरे वेतन संशोधन मुद्दे को सुलझाने के लिए अधिकतम प्रयास किए हैं। यह बात सभी कर्मचारियों को पता है। एयूएबी के बैनर तले तीसरे वेतन संशोधन के निपटान की मांग करते हुए दिनांक 03-12-2018 से अनिश्चितकालीन हड़ताल के लिए नोटिस दिया गया था। लेकिन, तत्कालीन माननीय संचार मंत्री श्री मनोज सिन्हा द्वारा दिए गए आश्वासनों के बाद हड़ताल स्थगित कर दी गई थी। लेकिन, यह निर्विवाद तथ्य है कि बीटीईयू ने इस अनिश्चितकालीन हड़ताल के लिए हड़ताल नोटिस पर हस्ताक्षर नहीं किए थे। इसके बाद  एयूएबी ने तीसरे वेतन संशोधन के निपटान की मांग करते हुए 18, 19 और 20 फरवरी, 2019 को एक ऐतिहासिक 3 दिवसीय हड़ताल का आयोजन किया। लेकिन, बीटीईयू इस हड़ताल में भी शामिल नहीं हुआ। इस प्रकार बीटीईयू ने हमेशा एक हड़ताल-ब्रेकर और एक विश्वासघाती के रूप में कार्य किया है। बीटीईयू को अब कर्मचारियों को बताना चाहिए कि उसने भाजपा के पिछले 8 वर्षों के शासन के दौरान कर्मचारियों के लिए क्या तय किया है। कुछ नहीं। ठीक इसी कारण से बीएसएनएल कर्मचारियों द्वारा बीटीईयू की अनदेखी और उपेक्षा की जा रही है। बीटीईयू केवल सरकार द्वारा आपूर्ति की जा रही ऑक्सीजन पर जीवित है। हमारे लिए यह कहने की आवश्यकता नहीं है कि यह वही सरकार है, जिसने कर्मचारियों को तीसरे वेतन संशोधन से इनकार कर दिया है। अब आप बीटीईयू के असली चेहरे की पहचान कर सकते हैं।

15 - Jul - 2022
Corporate Office issues letter for payment of 5.5% IDA increase.

IDA has increased by 5.5% w.e.f. 01.07.2022. The DPE has already issued letter, giving it’s approval for the IDA increase. Today, BSNL Corporate Office has issued letter for the payment of this 5.5% IDA increase.

View File

15 - Jul - 2022
Hindi translation of "Corporate Office issues letter for payment of 5.5% IDA increase."

कॉर्पोरेट कार्यालय ने 5.5% आईडीए वृद्धि के भुगतान के लिए पत्र जारी किया है ।

आईडीए में 01.07.2022 से 5.5% की वृद्धि हुई है। डीपीई ने पहले ही पत्र जारी कर दिया है, जिसमें आईडीए वृद्धि के लिए इसे मंजूरी दी गई है। आज, *बीएसएनएल कॉर्पोरेट कार्यालय ने इस 5.5% आईडीए वृद्धि के भुगतान के लिए पत्र जारी किया है।* 

15 - Jul - 2022
AUAB, Tiruvannamalai (Vellore BA), Tamil Nadu circle, submits memorandum to Shri C.N.Annadurai, Hon’ble MP, Tiruvannamalai on 15.07.2022.

14 - Jul - 2022
Wild rumours being spread about 2nd VRS - General Secretary speaks to the Director (HR)..

Wild rumours are being spread for the past 2 / 3 days by miscreants, stating that 2nd VRS is going to be implemented in BSNL. The highlights of the VRS package, like age limit, quantum of exgratia, etc., are also being circulated. Com.P.Abhimanyu, General Secretary, spoke to Shri Arvind Vadnerkar today and enquired about this matter. The Director (HR) firmly told that, the news on 2nd VRS is baseless. Hence, CHQ requests our comrades not to believe these rumours and also not spread them. 

14 - Jul - 2022
Hindi translation of "Wild rumours being spread about 2nd VRS - General Secretary speaks to the Director (HR)."

दूसरे वीआरएस के बारे में अफ़वाहें फैलाई जा रही है ।  महासचिव ने निदेशक (मानव संसाधन) से बात की हैं। 

शरारती तत्वों द्वारा पिछले 2-3 दिनों से अफवाहें फैलाई जा रही हैं जिसमें कहा गया है कि बीएसएनएल में दूसरा वीआरएस लागू किया जा रहा है । वीआरएस पैकेज की मुख्य बातें जैसे आयु सीमा, एक्सग्रेसिया की मात्रा आदि भी परिचालित की जा रही हैं। महासचिव साथी पी. अभिमन्यु ने आज श्री अरविंद वडनेरकर से बात की और इस मामले की जानकारी ली । निदेशक (मानव संसाधन) ने दृढ़ता से बताया कि दूसरे वीआरएस पर खबर निराधार है । इसलिए सीएचक्यू हमारे साथियों से अनुरोध करता है कि वे इन अफवाहों पर विश्वास न करें और उन्हें न फैलाएं। 

14 - Jul - 2022
No transfer of the Non-Executives till completion of the 9th Membership Verification – Corporate Office issues letter.

The 9th Membership Verification is going to be held in October, 2022. The Corporate Office has already called for applications for participating in the 9th Membership Verification. Under these circumstances, Corporate Office has issued letter yesterday stating that, normal / rotational outstation transfer orders issued and which are not implemented till 27.07.2022, should be kept in abeyance till further orders or completion of 9th Membership Verification. The Corporate Office has given the following exemptions from this order:-

 

(1)  Transfers on promotion or change of cadre.

(2)  Tenure Transfer (Hard/Soft/Rural).

(3)  Transfers on own cost/own request.

(4)  Transfers without change in the station of posting.

 

Circle/ District Secretaries are requested to ensure that, this letter is not misused.

View File

14 - Jul - 2022
AUAB meeting to be held online on 18.07.2022.

A meeting of the AUAB will be held online on 18.07.2022. The meeting will take stock of the latest developments, including the monetisation of BSNL’s mobile towers, and will take appropriate decisions.

14 - Jul - 2022
AUAB, Vadodara, Gujarat circle, submits memorandum to Smt. Gitaben Rathva, Hon’ble MP, Lok Sabha, Chhota Udaipur constituency, on 14.07.2022.

14 - Jul - 2022
AUAB, Pollachi, Tamil Nadu circle, submits memorandum to Shri K. Shanmugasundharam, Hon’ble MP, on 14.07.2022.

13 - Jul - 2022
Hindi translation of "JE LICE – vacancies are available only in 15 circles – vacancies in single digit in 7 circles – BSNLEU writes to the CMD BSNL, demanding to hold the JE LICE with the vacancies existed as on 31.01.2020."

JE LICE : रिक्त पद केवल 15 सर्किलों में उपलब्ध हैं । 7 सर्किलों में एकल अंक में रिक्त पद है । BSNLEU ने सीएमडी, बीएसएनएल को पत्र लिखा और मांग की है कि 31.01.2020 को मौजूद रिक्त पदों के साथ जेई एलआईसीई आयोजित करें ।

कॉरपोरेट कार्यालय ने दिनांक 16.10.2022 को जेई एलआईसीई आयोजित करने के लिए अधिसूचना जारी की है । हालांकि, रिक्त पद केवल 15 सर्किलों में उपलब्ध हैं । अन्य सर्किलों में कोई रिक्त पद नहीं है । 15 सर्किलों में भी रिक्त पद 7 सर्किलों में केवल एकल अंक में उपलब्ध हैं । यह समस्या बीएसएनएल प्रबंधन का सर्जन है । पुनर्गठन के नाम पर जेई/ड्राफ्ट्समैन के 34,646 पदों को घटाकर 7,991 पदों पर कर दिया गया । जेई के कैडर में भारी कमी सभी सर्किलों में व्याप्त है । इसलिए, BSNLEU ने सीएमडी, बीएसएनएल को पत्र लिखकर बड़ी संख्या में जेई पदों को समाप्त करने के लिए लिए गए निर्णय की समीक्षा करने की मांग की है । इस बीच, BSNLEU ने जेई रिक्त पदों के साथ आगामी जेई एलआईसीई आयोजित करने की भी मांग की है, जो दिनांक 31.01.2020 को मौजूद थे ।

13 - Jul - 2022
Hindi translation of "BSNLEU writes to the Director (HR), demanding to settle the problems related to the JE LICE."

BSNLEU ने निदेशक (एचआर) को पत्र लिखकर जेई एलआईसीई से संबंधित समस्याओं को हल करने की मांग की है ।

BSNLEU ने अक्टूबर-2022 में आयोजित होने वाले जेई एलआईसीई  के बारे में निदेशक (एचआर) को एक पत्र लिखा है, जिसमें निम्नलिखित मांगें उठाई गई है ।

 

  1. जेई एलआईसीई ऑनलाइन परीक्षा के रूप में आयोजित नहीं किया जाना चाहिए । यह केवल  "ऑफ-लाइन" परीक्षा के रूप में आयोजित किया जाना चाहिए ।
  2. प्रबंधन को वर्ष 2021 के रिक्त पदों के लिए भी जेई एलआईसीई आयोजित करने के लिए तुरंत अधिसूचना जारी करनी चाहिए ।
  3. चूंकि, नॉन एक्ज़िक्यूटिव्स के लिए 9 वां सदस्यता सत्यापन अक्टूबर-2022 में आयोजित किया जा रहा है, जेई एलआईसीई नवंबर-2022 में आयोजित किया जाना चाहिए।
  4. जेई एलआईसीई के लिए प्रश्न पत्र का मानक बहुत अधिक नहीं होना चाहिए। BSNLEU ने मांग की है कि परीक्षा उचित मानक के प्रश्नों के साथ आयोजित की जानी चाहिए ।